Today,

सीरिया:शहीद तुर्की जवानों के जनाज़े में उमड़ा जनसैलाब

06 Mar 2018

साभार समाचार

सीरिया का मामला इस वक़्त सारी दुनिया में बहस का विषय बना हुआ है। अभी हाल ही में तुर्की की सेना ने सीरिया में मौजूद कुर्द विद्रोहियों के खिलाफ हजारों फौजियों को भेज फतह हासिल की जिसमे आफरीन क्षेत्र पर तुर्की ने अपना परचम भी लहरा दिया था।

आपको बता दें की इस जंग के दौरान अफरीन इलाके में तुर्की की सेना ने लगभद दो हजार से ज्यादा कुर्द विद्रोहियों को मार गिराया था. और इधर से मतलब तुर्क सैनिको को भी अपने कुछ साथियों की जान गंवाना पढी थी. तुर्की की सरकार इन कुर्दों के अलगाववादी संगठन को आतंकवादी मानती है, लेकिन वहीं सीरिया सरकार इन पाले हुए कुर्दों को समर्थन देती है।
आफरीन भाग में पिछले कई दिनों से जंग जारी थी और तुर्क सेना नने कुर्दों के खिलाफ जारी इस जंग में 41वें दिन भारी नुकसान उठाना पड़ा, करीब आठ तुर्क सैनिको को इस जंग में अपनी जान गवानी पड़ी।
तुर्की के इन सभी सैनिको को पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनके गृह नगरो में जुमे के दिन सुपुर्दे ख़ाक कर दिया गया. जंग में शहीद हुए तुर्की के सैनिकों को बड़ी संख्या में लोगो ने पहुंचकर नमाज ए जनाजा में हिस्सा लिया. लोग तुर्क सेना जिंदाबाद के नारे लगाते हुए कुर्द आतंकवादियों के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे।
मृतक तुर्क सैनिको के अंतिम संस्कार में सरकार के मंत्री और अधिकारी मौजूद रहे, सीरिया में सैनिको के शहीद होने के बाद देश में देशभक्ति का ज्वार फूट चूका है।
लोग कुर्द आतंकवादी वाईपीजी के सफाए की सरकार से मांग कर रहे है. वहीं सैनिको की मौतों पर तुर्क सेना का कहना है कि आफरीन में तुर्क और उसके सहयोगी गुट का बड़े हिस्से पर कब्ज़ा हो गया है लेकिन अफरीन का केंद्र अभी भी वाईपीजी के कब्ज़े में है वाईपीजी नागरिको को ढाल बना रहा है।



अन्य खबर