Today,

राजसमंद:क्या हिंदूवादी आतंकी की भेंट चढ़े अफराजुल के परिजनों को मिलेगा इंसाफ़

08 Dec 2017

समाचार साभार नेशनल स्पीक

नई दिल्ली – राजस्थाने के राजसमंद में एक मुस्लिम युवक की बेरहमी से हत्या करने वाले शंभुला रेगर क पत्नि ने शंभूनाथ को नशेड़ी बताया है। अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान शंभूला की पत्नि ने कहा कि उसे नहीं मालूम कि उसके पति ने इस वारदात को क्यों अंजाम दिया है।
उसकी पत्नि ने कहा कि उसका पति बेरोजगार है, अक्सर गांजा पीता रहता है और घूमता रहता है, उसने कहा कि  मैंने कभी नहीं सोचा था कि वह हत्या भी कर सकता है।’ गौरतलब है कि राजस्थान पुलिस ने इस हत्या के आरोप में शंभूलाल रेगर और उसके भतीजे को गिरफ्तार कर लिया है। शंभूलाल ने अफराजुल की हत्या की थी और उसका वीडियो अपने 14 वर्षीय भतीजे से बनवाया था।
पुलिस जांच में इस बात की पुष्टी हुई है कि अफराजुल की हत्या करने वाला शंभूलाल रेगर न तो नशेड़ी है और ना ही मानिसक रूप से विक्षिप्त है। पुलिस इस हत्यारोपी की पत्नि के उन सभी दावों को खारिज कर दिया है जो उसके द्वारा किये गये थे।

इंडियन एक्सप्रेस ने मृतक अफराजुल के परिवार के परिवार से भी बातचीत की है। बता दें कि अफराजुल पश्चिम बंगाल के माल्दा के रहने वाले थे और राजस्थान में मजदूरी करते थे। अफराजुल के परिवार वालों ने कहा है कि  जिन्होंने अफराजुल को जानवरों की तरह मारा और उनका वीडियो बनाकर वायरल किया उन्हें फांसी दी जानी चाहिए।
अफराजुल सैयदपुर गांव के रहने वाले थे यह गांव पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता से लगभग सवा तीन सौ किलो मीटर दूर है। अफराजुल की पत्नि ने कहा कि, ‘हम चाहते हैं कि जिन्होंने बेरहमी से मेरे पति का कत्ल किया है और इसे दुनिया को दिखाया है उन्हें फांसी हो, मुझे इंसाफ चाहिए। उन्होंने कहा कि अफराजुल सिर्फ इसलिए मारा गया क्योंकि वो एक मुस्लिम था।
उन्होंने कहा कि उस दिन करीब 3 बजे हमें राजस्थान पुलिस से एक फोन आया और हमें बताया गया कि मेरे पति अफराजुल की हत्या कर दी गई है।’ अफराजुल की बेटी रेजिना खातून का कहना है कि उन्हें पता भी नहीं कि ये लव जिहाद आखिर क्या चीज है, उनके नाती-पोते हैं। रेजिना ने कहा कि हम लोग अपने अब्बा से रोज बात करते थे, उनलोगों ने मेरे अब्बा को जानवरों जैसा मारने से पहले आग लगा दिये, मैं चाहती हूं कि जिन्होंने ऐसा किया है उन्हें भी ऐसी ही सजा दी जाए।’



अन्य खबर